निगम के भ्रष्ट अफसरों की मिलीभगत द्वारा हुए अवैध निर्माण के विरूद्ध शिकायत

Complaint Date:
By:
Category: Others

परम आदरणीय
श्री अरविन्द केजरीवाल जी,
मुख्यमंत्री दिल्ली सरकार

विषय :- निगम के भ्रष्ट अफसरों की मिलीभगत द्वारा हुए अवैध निर्माण के विरूद्ध शिकायत
मान्यवर, निवेदन यह है कि ४१९६, भगवती भवन, तेल मण्डी पहाड़ गंज जो सदर पहाड़ गंज ज़ोन नार्थ के अंतर्गत आता है में निगम के भ्रष्ट अफसरों की मिलीभगत से दो रिहायशी मकानों में अवैध निर्माण कराकर चार मंजिला गेस्ट हॉउस बनवा दिए हैं !
गौरतलब बात यह है कि यह दोनों गेस्टहाउस कांग्रेस के एक स्थानीय नेता महेंद्र भास्कर ने गेस्टहाउस बनाने ठेका लेकर जो उस समय के केन्द्रीय मंत्री अजय माकन का बहुत करीबी था और आज भी है ने अपना राजनैतिक प्रभाव दिखाते हुए एक ही साथ निर्माण कराया था लेकिन पडौस के रहने वाले लोगों के एतराज़ करने पर निगम के अधिकारीयों ने कोई ठोस कार्यवाही नही की थी और निर्बाध रूप से निर्माण होता रहा और दोनों गेस्टहाउस बनकर तैयार हो गए जिनका नाम के.वी.एम (जिसकी मालिक मंजू अग्रवाल है) और के.डी.एम् (जिसके मालिक अशोक कुमार और महेंद्र भास्कर हैं) रख दिए गए ! इलाके के लोगों की लगातार शिकायत मिलने पर निगम ने एक के.वी.एम. गेस्टहाउस पर सील लगा दी और केडीएम गेस्टहाउस पर कोई कार्यवाही नहीं की गई जबकि एक आर.टी.आई के जबाब में इन निर्माणों पर कोई नक्शा नहीं पास कराने की बात कही गई है ! जबकि दोनों गेस्टहाउस एक ही समय और एक ही व्यक्ति द्वारा बनाने शुरू किये गए थे लेकिन एक पर ही कार्यवाही की गई जिसे अब दस लाख रूपये की रिश्वत द्वारा चालू करने की कोशिश की जा रही है जबकि दोनों अवैध निर्माण को गिराया जाना चाहिए था ?
अब के.डी.एम गेस्टहाउस को उसकी मालिक मंजू अग्रवाल ने तीन लाख रूपया महीना की लीज पर दे दिया है जिसे इन्कमटेक्स में भी नहीं बताया गया है ? लीज पर लेने वाले व्यक्ति ने इस गेस्टहाउस को वैश्यावृति का अड्डा बना दिया है ! लोगों के एतराज़ करने पर यह उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी देते हैं ! एक बार पुलिस में शिकायत करने पर इस गेस्टहाउस पर छापे के दौरान वैस्यवृति में लिप्त लोगों को पकड़ा भी गया था लेकिन इन्होने पुलिस को मोटी रकम देकर मामले को रफादफा करवा दिया जिस कारण अब लोग इनके खिलाफ पुलिस में शिकायत करने से भी डरने लगे हैं ?
अत: आपसे निवेदन है कि इन अवैध निर्माण कराकर बनाये गए गेस्ट हाउसों को बंद कराने की सख्त क़ानूनी कार्यवाही करने का आदेश करें ताकि इलाके में रहने वाले लोगों को इनमें चल रही वैश्यावृति से होने वाली शर्मिंदगी से राहत मिल सके !

निगम के भ्रष्ट अफसरों की मिलीभगत द्वारा हुए अवैध निर्माण के विरूद्ध शिकायत
0 votes, 0.00 avg. rating (0% score)

Leave a Reply

  • (will not be published)

XHTML: You can use these tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>


2 × = fourteen